राष्ट्रीय

NPR में किसी कॉलम के नहीं भरने पर नहीं लगेगा ‘D’, जानें क्या है इसका मतलब?

NPR में किसी कॉलम के नहीं भरने पर नहीं लगेगा 'D', जानें क्या है इसका मतलब?

नई दिल्ली: राज्यसभा गुरुवार (12 मार्च) को दिल्ली हिंसा (Delhi Violence) पर बयान देते हुए केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) से जुड़े बड़े सवाल का जवाब दिया. दरअसल आज अमित शाह ने दिल्ली हिंसा पर बयान देते हुए नागरिकता कानून के खिलाफ होने वाले प्रदर्शनों में CAA, एनपीआर और एनआरसी को लेकर लोगों में भ्रम फैलाने वाले नेताओं पर निशाना साधा. गृह मंत्री ने कहा, ‘दिल्ली में लोग नागरिकता कानून के लागू होने के बाद से हिंसक प्रदर्शन हो रहे थे. नागरिकता कानून से किसी की नागरिकता नहीं जाएगी. नेताओं के भड़काऊ भाषणों ने हिंसा भड़काने का काम किया. कांग्रेस कहती है कि सीएए अल्पसंख्यकों के खिलाफ है.’

किसी के फॉर्म में नहीं लगाया जाएगा ‘D’
राज्यसभा में अमित शाह के बयान के दौरान विपक्ष ने हंगामा किया. इस दौरान कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ने एनआरसी और एनपीआर को लेकर सवाल किया. सिब्बल के सवाल का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा, ‘मैंने खुद कहा है कि एनपीआर में कोई दस्तावेज नहीं मांगा जाएगा. पहले के एनपीआर में भी नहीं मांगा जाएगा. जितनी जानकारी देनी है उतनी जानकारी आप एनपीआर में दे सकते हैं. जो जानकारी आपके पास नहीं है वो नहीं मांगी जाएगी. इस देश के किसी नागरिक को एनपीआर की प्रक्रिया से डरने की जरूरत नहीं है..

….कोई कॉलम खाली रहने पर हम उस पर डी (Doubtful) लगा देंगे ऐसा होने वाला नहीं है. फिर भी मैं कहता हूं, विपक्ष के किसी भी सदस्य को अगर संदेह है तो मैं गुलाम नबी आजाद औऱ आनंद शर्मा जी के साथ चर्चा के लिए तैयार हूं. आप कभी भी आ सकते हैं.’

अमित शाह के बयान पर हैरान हुआ गुलाम नबी
राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने उठकर अमित शाह से पूछा, ‘क्या आप सही कह रहे हैं कि किसी के फॉर्म पर डी नहीं लगाया जाएगा?’ इस पर अमित शाह ने कहा, ‘जी हां मैं बिलकुल ठीक कह रहा हूं.’ गुलाम नबी आजाद अमित शाह के आश्वसन पर तुंरत बैठ गए.

अमित शाह, ‘मैं विपक्ष को कहता हूं कि सीएए और एनपीआर पर भ्रांति फैलाने का काम बंद करना होगा.’

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: