राष्ट्रीय

पेट्रोल और डीजल पर बढ़ाई गई एक्‍साइज ड्यूटी, कीमतों पर पड़ेगा ये असर

पेट्रोल और डीजल पर बढ़ाई गई एक्‍साइज ड्यूटी, कीमतों पर पड़ेगा ये असर

नई दिल्‍ली: पेट्रोल और डीजल पर तीन रुपये प्रति लीटर एक्‍साइज ड्यूटी बढ़ाई गई है. इससे पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ सकते हैं. हालांकि इससे पहले पेट्रोल और डीजल के दाम में शुक्रवार को लगातार दूसरे दिन गिरावट दर्ज की गई थी. पेट्रोल का दाम दिल्ली और मुंबई में 14 पैसे जबकि कोलकाता में 13 पैसे और चेन्नई में 15 पैसे प्रति लीटर घट गया था. डीजल की कीमत दिल्ली और कोलकाता में 15 पैसे जबकि मुंबई और चेन्नई में 16 पैसे घटी. इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल का दाम शुक्रवार को घटकर क्रमश: 70 रुपये, 72.70 रुपये, 75.70 रुपये और 72.71 रुपये प्रति लीटर हो गया. चारों महानगरों में डीजल की कीमत भी घटकर क्रमश: 62.74 रुपये, 65.07 रुपये, 65.68 रुपये और 66.16 रुपये प्रति लीटर हो गई.

दरअसल लगातार दो दिनों में देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल 29 पैसे प्रति लीटर सस्ता हुआ और डीजल की कीमत 27 पैसे प्रति लीटर घट गई.

अंतरराष्‍ट्रीय दबाव
हालांकि पहले ये कहा जा रहा था कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में लगातार नरमी बनी हुई है, जिससे आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल के दाम में और गिरावट आने की संभावना व्‍यक्‍त की गई थी. इस संबंध में एंजेल ब्रोकिंग के एनर्जी एवं करेंसी रिसर्च मामलों के डिप्टी वाइस प्रेसीडेंट अनुज गुप्ता ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में इस सप्ताह कच्चे तेल के दाम में भारी गिरावट आई है और अभी तेजी की कोई संभावना नहीं दिख रही है. उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस का कहर दुनियाभर में गहराता जा रहा है और तेल बाजार की हिस्सेदारी को लेकर छिड़ी जंग के कारण तेल के दाम पर दबाव बना हुआ है. गुप्ता ने कहा कि अगर कच्चे तेल का भाव इसी तरह नीचे रहा तो आने वाले दिनों मे पेट्रोल और डीजल के दाम में बड़ी गिरावट देखने को मिल सकती है.

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के मई अनुबंध में पिछले सत्र से 1.02 फीसदी की गिरावट के साथ 32.88 डॉलर पर कारोबार चल रहा था. न्यूयार्क मर्के टाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) पर अप्रैल डिलीवरी अमेरिकी लाइट क्रूड वेस्ट टेक्सास इंटरमीडिएट (डब्ल्यूटीआई) के अनुबंध में 1.05 फीसदी की गिरावट के साथ 31.63 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था.

Tags
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: