उत्तराखण्ड

उत्तराखंड में मिला Coronavirus का पहला मरीज, राज्य सरकार अलर्ट

उत्तराखंड में मिला Coronavirus का पहला मरीज, राज्य सरकार अलर्ट

देहरादून: राजधानी देहरादून में  Coronavirus के पहले मरीज मिलने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है. 1 ट्रेनी आईएफएस अधिकारी को कोरोना होने की पुष्टि हो चुकी है. स्टडी टूर पर स्पेन से लौटे 6 आईएफएस अधिकारियों की सेहत खराब बताई जा रही थी जिसके बाद इनके सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे. जिसमें से 1 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है.

डीजी हेल्थ अमिता उप्रेती ने बताया कि स्पेन, रूस और फिनलैंड की यात्रा करके लौटे 6 आईएफएस अधिकारियों के ब्लड सैंपल भरे गए थे. जिसमें से दो लोगों की रिपोर्ट आ चुकी है जिसमें से एक ट्रेनी आईएफएस अधिकारी को कोरोना होने की पुष्टि हुई है. जबकि 4 संदिग्ध मरीजों की जांच रिपोर्ट आना अभी बाकी है. इनकी जांच हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज से कराई जा रही है.

अमिता उप्रेती का कहना है कि अभी फिलहाल ट्रेनिंग आई एफएस अधिकारी को देहरादून के सरकारी कार्यालय में ही आइसोलेट कर दिया गया है और उनका इलाज किया जा रहा है. राज्य सरकार ने कोरोना वायरस के मरीज के इलाज के लिए जो गाइडलाइंस तैयार की है उसके मुताबिक इलाज किया जा रहा है.

स्वास्थ्य विभाग ने अब तक कोरोना के 25 संदिग्ध मरीजों के सैंपल भरे हैं. जिसमें से 17 मरीजों की रिपोर्ट आ चुकी है. जबकि 8 मरीजों की रिपोर्ट आनी बाकी है. फिलहाल उत्तराखंड में एक मरीज को कोरोना  होने की पुष्टि हो गई है. केंद्र सरकार ने स्वास्थ्य विभाग को 538 यात्रियों की सूची दी है, जिसमें से 355 यात्रियों की मॉनिटरिंग पूरी कर ली गई है, जबकि 183 यात्रियों को अंडर ऑब्जर्वेशन रखा गया है.

इंडो नेपाल सीमा पर स्वास्थ्य विभाग ने बढ़ाई चौकसी
लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीम इंडो नेपाल बॉर्डर पर आने जाने वाले यात्रियों की मॉनिटरिंग कर रही है. हेल्थ टीम जगह-जगह लोगों को वायरस की रोकथाम के के बारे में बता रही है. फिलहाल जिस तरह से कोरोना वायरस का पहला मरीज सामने आया है. ऐसे में स्वास्थ्य विभाग की चुनौतियां और बढ़ गई है. बताया जा रहा है कि जिस दल में आईएफएस अधिकारी शामिल शामिल थे,उनकी संख्या करीब 62  है. सरकार पहले ही 31 मार्च तक स्कूलों को कर चुकी है बंद
31 मार्च तक सभी स्कूलों को बंद कर दिया गया है.  कोरोना वायरस के संक्रमण को लेकर प्रदेश सरकार ने 31 मार्च तक प्रदेश के सभी स्कूलों को बंद करने का निर्देश जारी कर चुकी है. आंगनवाड़ी व मिनी आंगनवाड़ी केंद्रों को भी बंद कर दिया गया है. राज्य सरकार ने अधिकारियों को सैनिटाइजर और मास्क की कालाबाजारी के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं.

Tags
Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: