राष्ट्रीय

तिहाड़ जेल में दोषियों को दी गई फांसी, जानिए पूरी रात क्या हुआ

तिहाड़ जेल में दोषियों को दी गई फांसी, जानिए पूरी रात क्या हुआ

नई दिल्ली: निर्भया केस में दोषियों की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया है. अब निर्भया के दोषियों की फांसी का रास्ता साफ हो गया है. दोषियों को सुबह 5.30 बजे फांसी दी जाएगी. बता दें कि दोषियों के वकील एपी सिंह आधी रात करीब 1.25 बजे सुप्रीम कोर्ट के रजिस्ट्रार के घर पहुंचे थे और दोषियों की फांसी पर रोक लगाने की याचिका रजिस्ट्रार को दी थी. इसके बाद आनन-फानन में जज सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे.

LIVE अपडेट

दोषियों के मुंह पर काला कपड़ा डाला गया

चारों दोषियों के हाथ-पैर बांधे गए 

निर्भया केस के चारों दोषियों के हाथ-पैर बांध दिए गए हैं. कुछ ही देर में उन्हें फांसी दी जाएगी.

चारों दोषियों का मेडिकल हुआ, पाए गए फिट
निर्भया के चारों दोषियों को 10 मिनट दिए गए. जिससे वो जिस भगवान को मानते हैं उनको याद कर लें. चारों दोषियों का मेडिकल हुआ है. चारों फिट हैं. सूत्रों के मुताबिक फांसी होते हुए केवल 5 लोग ही देख पाएंगे. जिनमें जेल सुपरिटेंडेंट, डिप्टी सुपरिटेंडेंट, मेडिकल ऑफिसर, RMO और इलाके के मजिस्ट्रेट व एक अन्य स्टाफ शामिल होगा. इसके अलावा फांसी की सजा पाने वाला दोषी चाहे तो उसके धर्म का कोई भी नुमाइंदा जैसे पंडित या मौलवी भी मौजूद रह सकता है, पर ऐसा दोषियों ने कोई डिमांड नहीं की है.

दोषियों ने नहाने से मना किया

फांसी घर में फांसी से पहली की तैयारियां शुरू. फांसी घर की सीढ़ियों को साफ किया जा रहा है. जब तक तिहाड़ में फांसी की प्रक्रिया होगी तब तक जेल में सब कुछ रुका रहेगा. किसी भी कैदी को बाहर नहीं निकाला जाएगा. चारों दोषियों को चाय ऑफर की गई है. बाकियों को नियमों के अनुसार 8 बजे के बाद दी जाएगी. दोषियों ने नहाने से मना किया. उनके कपड़े नहीं बदले जा रहे हैं. उन्होंने कपड़े बदलने से इनकार कर दिया है. जेल अधिकारियों ने फांसी कोठी का मुआयना किया है. फांसी के लिए 10 फीट का तख्त लगा हुआ है. जिसके ऊपर की रॉड पर 4 फंदे लटकाए जाएंगे. जब सभी कैदी फांसी घर मे प्रवेश करेंगे तो कोई भी बोलेगा नहीं. केवल इशारों से बात की जाएगी. तिहाड़ के इतिहास में पहली बार बताकर चार दोषियों को फांसी हो रही है.

दिल्ली की तिहाड़ जेल में फांसी की तैयारियां जारी

दिल्ली की तिहाड़ जेल में दोषियों को फांसी की तैयारियां जारी हैं. पूरी तिहाड़ जेल को लॉक डॉउन किया गया. तिहाड़ जेल प्रशासन के साथ जल्लाद की बैठक चल रही है. वेस्ट दिल्ली के डीएम तिहाड़ जेल पहुंचे. डीएम, निर्भया के दोषियों से उनकी वसीयत के बारे में पूछेंगें. इसके अलावा तिहाड़ जेल की सुरक्षा बढ़ाई गई है. डीजी तिहाड़ संदीप गोयल तिहाड़ पहुंचे हैं.

निर्भया की मां ने कहा- आज का सूरज देश की बच्चियों के नाम

सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद निर्भया की मां ने कहा, ‘निर्भया को देर से ही सही लेकिन इंसाफ मिला. चारों दोषियों को फांसी होने के बाद ही इंसाफ पूरा होगा. मैं पूरे देश को धन्यवाद देना चाहती हूं. आज का सूरज देश की बच्चियों के नाम.’

सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की दोषियों की याचिका, फांसी तय

सुप्रीम कोर्ट ने चारों दोषियों की याचिका खारिज कर दी है. इससे दोषियों की फांसी का रास्ता साफ हो गया है. अब दोषियों को सुबह 5.30 बजे फांसी दी जाएगी. सुप्रीम कोर्ट ने कहा, ‘राष्ट्रपति द्वारा दया याचिका खारिज होने के बाद हमारे पास राष्ट्रपति के फैसले की समीक्षा का दायरा बेहद सीमित है. सुप्रीम कोर्ट ने पवन की नाबालिग होने की दलील भी ठुकराई. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि दोषी की जेल में पिटाई की दलील राष्ट्रपति की दया याचिका खारिज करने के फैसले की समीक्षा का आधार नहीं हो सकता.’

सुनवाई के दौरान दोषियों के वकील ने कहा- पिटीशन का निपटारा होने तक फांसी को टाला जाए

वकील एपी सिंह ने कहा कि दोषी की 432/433 सीआरपीसी के तहत उपराज्यपाल और सीएम के यहां लंबित है, आग्रह है कि इन पिटीशन का निपटारा होने तक फांसी को टाला जाए. वकील एपी सिंह ने ये भी कहा कि पवन पर जेल में हमला हुआ था. 14 टांके लगे, फांसी से पहले पवन पर हुए हमले की जांच पूरी करवाई जाए. इस पर कोर्ट ने कहा कि इस स्टेज पर आप क्या कानूनी तर्क देना चाहते हैं? आपने अक्षय मामले की सुनवाई में भी आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई में रखी थी कि पूरा सिस्टम, पूरी मशीनरी दोषियों के खिलाफ दबाव में काम कर रही है.

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close
%d bloggers like this: