ताज़ा ख़बरबिहार

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कोविड-19 एवं परिवहन विभाग की समीक्षात्मक बैठक की गई

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कोविड-19 एवं परिवहन विभाग की समीक्षात्मक बैठक की गई

 

जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कोविड-19 एवं परिवहन विभाग की समीक्षात्मक बैठक की गई

समस्तीपुर के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह की अध्यक्षता में कोविड-19 एवं परिवहन विभाग की समीक्षात्मक बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से समाहरणालय स्थित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग कक्ष में आहूत की गई।

बैठक में निदेशक लेखा प्रशासन एवं स्वनियोजन,जिला परिवहन पदाधिकारी,जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी मुख्यालय,विशेष कार्य पदाधिकारी, नगर आयुक्त, जिला स्वास्थ्य प्रबंधक उपस्थित थे।एवं वीसी के माध्यम सभी अनुमंडल पदाधिकारी,सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी प्रखंड जीविका प्रबंधक,सभी थाना प्रभारी,सभी प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी एवं सभी एमओआईसी उपस्थित थे।

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा निम्नलिखित निर्देश दिए गए:

1. समस्तीपुर जिले की पॉजिटिविटी रेट लगभग 5% है, जिले में एक्टिव केसेस की संख्या अन्य जिलों के मुकाबले ज्यादा है।
2. हिट ऐप के जरिए होम आइसोलेशन की मॉनिटरिंग सुचारू रूप से करने का निर्देश दिया गया।
3. जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि जब तक लोगों का सही पता,फोन नंबर प्राप्त नहीं होता है, तब तक COVID की जांच नहीं करना है ,फर्जी तरीके से जो एंट्री करते रहते हैं उस पर जांच नहीं करना है एवं दोषी पाए जाने वाले ऑपरेटरों पर विभागीय कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया।
4. जिलाधिकारी महोदय द्वारा बताया गया कि जिले में 1242 लोग होम आइसोलेशन में है जिसमें 662 की ही टैगिंग हो पाई है, अनटैग्ड पॉजिटिव लोगों को शीघ्र टैग करने का निर्देश दिया गया।
5. जिले में एक्टिव केसेस की संख्या 1020 है।
6. प्रत्येक सोमवार, गुरुवार को वर्चुअल बैठक सभी बीडीओ,सभी एमओआईसी, सशक्त अस्थाई समिति के सदस्यों के साथ मिलकर करना सुनिश्चित करेंगे। मेडिकल किट का सही समय पर मरीजों को उपलब्ध होना भी बैठक के एजेंडा में होगा।
7. मास्क की चेकिंग का महा अभियान सुचारू रूप से चलाते रहना है। इसमें माइकिंग, मास्क चेकिंग एवं फाइन करते रहने का निर्देश दिया गया।
8. विशेष रूप से पटोरी एवं रोसरा अनुमंडल में मास्क चेकिंग अभियान चलाते रहने का निर्देश दिया गया।
9. सभी अनुमंडल पदाधिकारियों द्वारा मास्क चेकिंग और फाइन की कार्रवाई को सख्ती से करने का निर्देश दिया गया।
10. धाबा दल को मास्क चेकिंग हेतु सक्रिय करने का निर्देश सभी अनुमंडल पदाधिकारियों को दिया गया।
11. सभी बीडीओ से अपेक्षा की गई कि COVID के कारण मृत व्यक्तियों के आवेदन का सही सत्यापन कर जल्द से जल्द जिला को प्रेषित करेंगे। अगर भुगतेय हैं, तो उन्हें भुगतान किया जाएगा।
12. किट डर्स्टिब्यूशन हाउस विजिट ससमय एवं नियमित होते रहना चाहिए।
13. जिले में 37% बूस्टर डोज योग्य लाभार्थियों को दिया गया है। इसमें तेजी लाने का निर्देश दिया गया।
साथ ही बूस्टर डोज नहीं लेने वाले कर्मियों एवं पदाधिकारियों का बेतन रोके जाने का निर्देश दिया गया।

परिवहन

1. रोड दुर्घटना के तहत 14 लोगों की सूची प्राप्त है। जिसमें सिर्फ एक का भुगतान किया गया है, 13 मामले अभी भी लंबित है।
2. एक सूची जिला परिवहन पदाधिकारी के द्वारा प्रेषित किया गया था, जिसके आलोक में थानावार जांच रिपोर्ट अपेक्षित था, जो अप्राप्त है, जिसके कारण भुगतान लंबित है।
अतः सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिया गया कि C1 C2 एवं C3 में भरकर रिपोर्ट जिला परिवहन पदाधिकारी को शीघ्र प्रेषित करना सुनिश्चित करेंगे।
3. जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि सड़क दुर्घटना में दुर्घटनाग्रस्त व्यक्तियों को अगर (गुड समरितन) कोई व्यक्ति या ऑटो चालक या कोई अन्य उठाकर हॉस्पिटल तक ले जाते हैं, तो परिवहन विभाग के तरफ से उसे 5000 की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।
यह हमारी नैतिक जिम्मेदारी बनती है। अगर दुर्घटना में व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है, तो उसे 5 लाख की राशि मुआवजा के रूप में दिया जाएगा।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close