Follow Us

अफसर की बेटी से गैंगरेप, पीड़िता राजधानी के बड़े कॉलेज की छात्रा

अफसर की बेटी से गैंगरेप, पीड़िता राजधानी के बड़े कॉलेज की छात्रा

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक अधिकारी की बेटी से गैंगरेप का सनसनीखेज मामला सामने आया है. सूत्रों की मानें तो पीड़िता एक बड़े अधिकारी की बेटी होने के साथ बड़े कॉलेज की छात्रा है. वजीरगंज से आईटी चौराहा और फिर आईटी चौराहे से बाराबंकी सफेदाबाद लेकर जाकर आरोपियों ने वारदात को अंजाम दिया. आरोपियों में एक निजी एंबुलेंस संचालक और दो लोग मेडिकल कालेज के पास चाय का ठेला लगाने वाले हैं. आरोपियों के पास से पीड़िता का बनाया गया वीडियो भी मिला है.

राजधानी लखनऊ में गैंगरेप जैसी बड़ी वारदात को लेकर हरकत में आई पुलिस ने कार्रवाई की. जानकारी के अनुसार, 5 दिसंबर को गोमतीनगर निवासी युवती को स्टेशन के पास से बहला फुसला कर ले गए चौक के तीन लड़के साथ ले गए थे. उसके बाद युवती के साथ राजधानी लखनऊ में गैंगरेप जैसे बड़ी वारदात को अंजाम दिया गया. प्रकरण में 5 दिन बाद रविवार को एफआईआर लिखी गई और फिर तत्काल आरोपी गिरफ्तार किए गए.

वजीरगंज थाना क्षेत्र के KGMU हॉस्पिटल के सामने चार दिन पूर्व सामूहिक दुष्कर्म की घटना का लखनऊ पुलिस ने खुलासा कर दिया है. डीसीपी पश्चिम लखनऊ राहुल राज ने कहा, युवती KGMU में इलाज करवा रही थी. KGMU आने के दौरान बाहर चाय का स्टॉल लगाने वाले सत्यम से उसकी जान पहचान हुई. मोबाइल चार्जिंग के बहाने से गाड़ी में उसके साथ गैंग रेप किया गया. सत्यम असलम सुहैल पर गैंग रेप का आरोप लगा है. तीनों आरोपियों को वजीरगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. रेप की घटना को अंजाम देने के बाद पॉलिटेक्निक चौराहे पर युवती को आरोपियों ने छोड़ा था. पीड़िता के पिता लखनऊ में बड़े पद पर तैनात हैं.

सवाल उठता है कि बड़ी वारदात में 5 दिन बाद FIR दर्ज होकर कार्रवाई का कारण क्या था? पीड़िता ने शिकायत नहीं की या फिर अधिकारियों के संज्ञान में आने पर फटकार के बाद FIR दर्ज़ की गई.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment