Follow Us

पत्नी से तलाक मामले में पवन सिंह आरा सिविल कोर्ट पहुंचे, न्यायाधीश के समक्ष रखी ये बात

पत्नी से तलाक मामले में पवन सिंह आरा सिविल कोर्ट पहुंचे, न्यायाधीश के समक्ष रखी ये बात

 

बिहार के पावर स्टार पवन सिंह और उनकी पत्नी ज्योति सिंह से तलाक मामले को लेकर आरा सिविल कोर्ट में बुधवार को एक बार फिर से पेशी हुई. तलाक मामले में पवन सिंह को अपने पक्ष की गवाही को लेकर कड़ी सुरक्षा के बीच कोर्ट लाया गया. सिविल कोर्ट के कुटुंब न्यायालय (फैमिली कोर्ट) में न्यायाधीश श्वेता सिंह के समक्ष पवन सिंह ने अपनी बातों को रखा. वहीं पवन सिंह को देखने के लिए कोर्ट के बाहर समर्थकों की भीड़ उमड़ गई.

पवन सिंह ने वकील सुदामा सिंह ने बताया कि पवन सिंह ने अपने केस के मुकदमे में गवाही दिया है. अब अगला जो डेट पड़ेगा अग्रतर कार्रवाई होगा. अभी तो ट्रायल चल रहा है, अभी दोनों तरफ से गवाही होगा. उसकी के आधार पर निर्णय होगा. उन्होंने बताया कि अब तक चार गवाही हो चुकी है. आगे भी हो सकता है पवन सिंह की पक्ष से गवाही दिया जाए. वहीं डेढ़ घंटे गवाही हुई है, अपने मुकदमे के संबंध में पवन सिंह ने सार्थक गवाही दिया है.

वहीं आपको बता दें कि ज्योति सिंह के तरफ से पवन सिंह पर मारपीट, बच्चे गिराने (गर्भपात) का आरोप लगाया गया है. जिसको लेकर ज्योति सिंह ने पवन सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था. जिसके बाद यह मामला कोर्ट तक पहुंचा और तलाक को लेकर दलीलों हुई. जिसमें ज्योति सिंह ने तीन करोड़ रुपया और नोएडा में एक घर की डिमांड की थी, लेकिन इन सब दलीलों पर पवन सिंह ने कुछ नहीं कहा था. जिसके बाद ज्योति सिंह के वकील ने केस लड़ने की बात कही थी. उन्होंने बताया था कि पवन सिंह की तरफ से एक करोड़ रुपए वन टाइम सेटलमेंट की बात कही गई थी,

दलीलों के दौरान पवन सिंह के वकील सुदामा सिंह ने बताया था कि ज्योति सिंह के द्वारा पहले पांच करोड़ रुपए मांगे जा रहे थे. न्यायाधीश के समझाने पर वो तीन करोड़ रुपए और नोएडा एक फ्लैट मांगी थी, लेकिन पवन सिंह अपनी सहूलियत के हिसाब से उनको एक करोड़ रुपए देने की बात को रखा था. हालांकि इसपर ज्योति सिंह राजी नहीं हुई थी, जिसके बाद से ही मामला सुलझने के बजाय बिगड़ गया था. अब दो बार रिकॉन्सलिंग के बाद ट्रायल शुरू किया गया है. जिसपर बुधवार को पवन सिंह ने अपनी पहली गवाही पेश की है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment