Follow Us

हसनपुर: प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा आयोजित तीन दिवसीय स्वर्णिम भारत नवनिर्माण आध्यात्मिक प्रदर्शनी

हसनपुर: प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय द्वारा आयोजित तीन दिवसीय स्वर्णिम भारत नवनिर्माण आध्यात्मिक प्रदर्शनी एवं साथ दिवसीय राजयोग मेडिटेशन शिविर का दीप प्रज्ज्वलन द्वारा उद्घाटन प्रखंड प्रमुख विश्वनाथ तांती, उप प्रखंड प्रमुख अनिता कुमारी, समस्तीपुर से पधारे बीके ओम प्रकाश भाई, बीके सविता बहन ने संयुक्त रूप से किया।

अपने उद्बोधन में प्रखंड प्रमुख विश्वनाथ तांती ने कहा कि वर्तमान समय को देखते हुए हसनपुर को इस प्रदर्शनी के आयोजन की नितांत आवश्यकता थी। इसके द्वारा समाज के हर वर्ग में आपसी भाईचारे में वृद्धि होगी, तनाव से मुक्ति मिलेगी एवं जीवन खुशनुमा एवं सुखदायी होगा। प्रखंड उप प्रमुख ने भी इस आयोजन के लिए अपनी शुभकामनाएं प्रकट की एवं संस्थान का आभार व्यक्त किया। समस्तीपुर से आये बीके ओमप्रकाश भाई ने अपने उद्बोधन में कहा कि इस प्रदर्शनी के द्वारा स्वर्णिम भारत का जो उद्घोष किया जा रहा है वह दुनिया शीघ्र ही आने वाली है। स्वयं निराकार परमपिता परमात्मा शिव ऐसी दुनिया लाने के लिए मनुष्य आत्माओं को श्रेष्ठ ज्ञान देकर देव तुल्य बना रहे हैं। जब हम बदलते हैं तो जग बदलता है और यह दुनिया स्वर्ग बन जाती है। बीके तरुण ने इस ईश्वरीय विश्व विद्यालय से परिचित कराते हुए कहा कि इसकी स्थापना स्वयं निराकार परमपिता परमात्मा शिव ने अपने साकार माध्यम प्रजापिता ब्रह्मा बाबा के द्वारा आज से 87 वर्ष पूर्व किया। यह संस्थान बिना किसी भेदभाव के हर धर्म जाति भाषा उम्र के लोगों के लिए नि:स्वार्थ भाव से निरंतर कार्यरत है। उनके कार्यों को देखते हुए राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर इसे अनेक पुरस्कारों से नवाजा गया है। लाखों भाई-बहन इस ईश्वरीय विश्व विद्यालय की नि:शुल्क शिक्षा लेकर अपने जीवन को देव तुल्य बना रहे हैं। बीके सविता बहन ने प्रदर्शनी पर उपस्थित लोगों को बड़े विस्तारपूर्वक समझाया एवं समस्त प्रखंड वासियों को इस प्रदर्शनी का लाभ लेने का आह्वान किया।
यह प्रदर्शनी रविवार संध्या 6:00 बजे तक प्रतिदिन चलेगी। शनिवार से दोपहर 2 से 3 बजे तक सात दिवसीय राजयोग शिविर का कार्यक्रम रहेगा। 100 से अधिक लोगों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। इस मौके पर मुख्य रूप से बीके कुंदन बहन, खुशबू बहन, सुशील भाई मनोज भाई देवनारायण भाई आदि उपस्थित थे।

pnews
Author: pnews

Leave a Comment