Follow Us

एटीएम मशीन से छेड़छाड़ कर चुराए पैसे, पुलिस ने किया 1 आरोपी को गिरफ्तार

एटीएम मशीन से छेड़छाड़ कर चुराए पैसे, पुलिस ने किया 1 आरोपी को गिरफ्तार

गिरिडीह: एटीएम से पैसा निकालने गये एक उपभोक्ता का पैसा मशीन में फंसाकर उस पैसे को बाद में निकासी करने की कोशिश में एक युवक को पुलिस ने रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया है, जबकि दूसरा उसका सहयोगी भागने में सफल रहा. घटना मुफस्सिल थाना क्षेत्र के डांड़ीडीह के पास स्थित बैंक ऑफ इंडिया के एटीएम में हुई है.

मिली जानकारी के अनुसार संजय कुमार सिंह नामक व्यक्ति एटीएम से दस हजार रुपये का निकासी करने के लिए अपना एटीएम कार्ड मशीन में डाला. मशीन में डालते ही दस हजार निकासी का एसएमएस उसके मोबाइल पर तो आ गया, लेकिन मशीन से राशि नहीं निकली. राशि नहीं निकलने के बाद संजय एक परिचित को एटीएम मशीन के पास रखकर दूसरा एटीएम कार्ड लाने चला गया. जब वह वापस लौटा तो उसे बताया गया कि दो व्यक्ति एटीएम के कैश स्लॉट में कुछ छेड़छाड़ कर रहे हैं. जब दोनों युवकों से पूछताछ शुरू हुई तो घबराकर दोनों भागने लगा. इसी क्रम में एक युवक को स्थानीय लोगों के सहयोग से पकड़ लिया गया, जबकि दूसरा युवक भागने में सफल हो गया.

जब इसकी सूचना महतोडीह पुलिस पिकेट के पेट्रोलिंग पार्टी को हुई तो पुलिस ने पहुंचकर पकड़े गये युवक को हिरासत में लिया और पूछताछ शुरू की. हिरासत में लिये गये संजीव कुमार ने बताया कि वह बिहार के गया जिले के फतेहपुर का रहने वाला है. जबकि दूसरा फरार युवक दीपू कुमार बिहार के नवादा का है. आरोपी संजीव कुमार ने कैश ड्रावल स्लॉट से पैसा फंसाकर बाद में निकालने की पूरी घटनाक्रम को विस्तार से बताया. उसने अपने साथ लाये गये दस इंच लंबा दो इंच चौड़ा सन्माइका और लोहा का बना हुआ फ्रेम दिखाया. डेमो दिखाकर बताया कि वह किस तरह से कैश ड्रावल स्लॉट के उपरी हिस्से में छेड़छाड़ करता है और राशि फंसाकर रखता है. जब एटीएम से राशि निकालने गये व्यक्ति का रुपया कैश ड्रावल स्लॉट में फंस जाता है और उसे राशि नहीं मिलती है तो उसके जाने के बाद साइबर अपराधी कैश ड्रावल स्लॉट से राशि की निकासी कर लेते हैं.

पुलिस ने गिरफ्तार संजीव कुमार के पास से सन्माईका की दो पीस पट्टी, टीना की चार पीस पट्टी, करंसी फंसाने का एक पीस स्टील इंस्ट्रूमेंट, एक एप्पल का मोबाइल फोन और एक अपाची मोटरसाइकिल बरामद करने में सफलता हासिल की है. दूसरे अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने छापामारी अभियान तेज कर दिया है. संजीव ने पूछताछ में यह भी बताया कि उसने यू ट्यूब में देखकर सीखा कि एटीएम मशीन से पैसे की ठगी कैसे की जाती है. उसने कबूल किया है कि और भी कई स्थानों पर उसने मशीन से छेड़छाड़ कर राशि ठगने में सफलता पायी है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment