Follow Us

दिल्लीवालो! कड़ाके की ठंड के लिए हो जाए तैयार

दिल्लीवालो! कड़ाके की ठंड के लिए हो जाए तैयार

राजधानी में शनिवार के दिन प्रदूषण के स्तर में एक बार फिर से इजाफा देखने को मिला है. दिल्ली में आज का औसत एक्यूआई 398 तक पहुंच गया है. ये गंभीर श्रेणी में आता है. इसके बाद अगले दो दिन भी हवा की गुणवत्ता बेहद खराब श्रेणी में दर्ज की जाने वाली है. इसलिए प्रदूषण से अभी राहत मिलने की संभावना नहीं है.

आज भी कोहरे को लेकर रेड अलर्ट

मौसम विभाग ने दिल्ली में आज का अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस के आस-पास बने रहने की संभावना जताई है. न्यूनतम तापमान 10 डिग्री के आसपास रहेगा. घने कोहरे को लेकर आज मौसम विभाग की तरफ से रेड अलर्ट एक बार फिर से जारी किया गया है. सिर्फ दिल्ली ही नहीं, बल्कि पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में भी कोहरे को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है.

ग्रेटर नोएडा में शीत लहर का प्रकोप

ग्रेटर नोएडा में शीत लहर का प्रकोप लगातार जारी है. अगर बात करें हम कोहरे की तो आज ग्रेटर नोएडा में कोहरा देखने को नहीं मिला, जिसकी वजह से वाहन एक बार फिर से रफ्तार भरने के लिए तैयार हैं. हालांकि, वाहन चालक हेडलाइट जलाकर ही हाईवेज को क्रॉस कर रहे हैं, क्योंकि कहीं-कहीं एक साथ कोहरे की सफेद चादर हाईवे पर दिखाई देने लगती है, लेकिन आज ग्रेटर नोएडा में कोहरा देखने को नहीं मिला. मौसम साफ है, लेकिन ठंड के साथ शीत लहर का प्रकोप जारी है.

पानीपत में घने कोहरे के के साथ ठंड

पानीपत में लगातार घने कोहरे के कारण विजिबिलिटी लगभग जीरो हो चुकी है. वाहन चालक वाहनों की लाइट वन इंडिकेटर चलाकर चल सड़कों पर निकल रहे हैं. पानीपत में 8 डिग्री टेंपरेचर के साथ ठंड अधिक होने के कारण लोग कंबल और आग का सहारा लें रहे हैं.

आज भी ट्रेन और फ्लाइट्स रहेंगी प्रभावित

बता दें कि कोहरे की वजह से पिछले कई दिनों से ट्रेनों और फ्लाइट काफी प्रभावित हुई है. IGI एयरपोर्ट पर करीब 80 फ्लाइट्स पर रोक लगा दिया है. इसी के साथ कई ट्रेनों की रफ्तार भी धीमी हो गई है और कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है, जिसकी वजह से यात्रियों को स्टेशनों और हवाई अड्डे पर घंटों इंतजार करना पड़ रहा है.

12वीं तक के बच्‍चों को आई मौज

जानकारी के मुताबिक, कड़ाके की ठंड और कोहरे की वजह से नोएडा में 12वीं तक के स्‍कूल 29 और 30 दिसंबर तक रखने का निर्देश जारी किया गया था, जिलाधिकारी ने ठंड और कोहरे को देखते हुए यह फैसला लिया है. सुबह के वक्त बच्चों को ठंड की वजह से कई परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment