Follow Us

जादू-टोना के शक पर 60 हजार रुपये में सुपारी देकर करवाई गई थी जोधन महतो की हत्या

जादू-टोना के शक पर 60 हजार रुपये में सुपारी देकर करवाई गई थी जोधन महतो की हत्या

झारखंड के गिरिडीह डुमरी थाना क्षेत्र के घुठियागढ़ा निवासी जोधन महतो की हत्या की गुत्थी डुमरी थाना पुलिस ने सुलझा ली है. पुलिस ने इस हत्याकांड को अंजाम देने वाले चार अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार अपराधियों में डुमरी थाना क्षेत्र के अलग-अलग गांव के रहने वाले है.

गिरफ्तार अपराधियों में मेहलाल महतो, जितेंद्र महतो, हारिल महतो और कालेश्वर महतो शामिल है. इन सभी अपराधियों के पास से पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त किये गए लाठी, पांच मोबाइल फोन और एक बाइक बरामद की है. उक्त आशय की जानकारी डुमरी के एसडीपीओ सुमित प्रसाद ने दी.

डुमरी के एसडीपीओ सुमित प्रसाद ने बताया कि 26 दिसंबर को डुमरी थाना क्षेत्र के तेलखारा पुल के पास सुनसान सड़क पर अज्ञात व्यक्ति की हत्या कर शव को फेंक दिया गया था. जिसकी पहचान भरखर के घूठियागढ़ा निवासी जोधन महतो के रूप में हुई थी, लेकिन हत्या कर किसने शव को फेंका था और इस घटना को अंजाम देने में किसका हाथ है, यह राज बना हुआ था.

उन्होंने आगे बताया कि घटना की गंभीरता को देखते हुए एसपी दीपक कुमार शर्मा के निर्देश पर एक टीम का गठन किया गया. जिसके बाद डुमरी थाना प्रभारी पवन कुमार ने मामले की गहन जांच शुरू किया. पुलिस ने अपने मानवीय सूत्रों सुलझाते हुए इस घटना को अंजाम देने वाले मुख्य अपराधी जितेंद्र महतो सहित चार अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है.

बताया कि जोधन महतो की हत्या के लिए जितेंद्र महतो ने पुरानी दुश्मनी और जादू टोना से परेशान रहने के कारण शक के आधार पर जोधन महतो की हत्या कर तेलखरा के पास फेंक दिया था. आगे बताया कि इस हत्याकांड के लिए जितेंद्र महतो ने मेहलाल महतो को 60 हजार रुपये की सुपारी दी थी. बताया की मेघलाल महतो का आपराधिक इतिहास भी रहा है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment