Follow Us

दवाई के पत्ते पर दिखे लाल लाइन..तो सावधान

दवाई के पत्ते पर दिखे लाल लाइन..तो सावधान

अक्सर ऐसा होता है कि बिना डॉक्टर का सलाह लिए लोग दवा खा लेते हैं. बहुत बार तो इससे आराम हो जाता है लेकिन हर बार ऐसा हो ये जरूरी नहीं है. बिना डॉक्टर के परामर्श लिए दवा लेने से कभी-कभी तबीयत और खराब हो सकती है. ऐसा होने के पीछे दो कारण हैं. पहला तो ये कि दवा का चयन सही न होने की वजह से उसका साइड इफेक्ट हो जाता है. दूसरा ये कि दवा का चयन तो सही है लेकिन दवा कब और कितना डोज लेना है ये नहीं मालूम होता है. इसलिए कभी भी डॉक्टर से परामर्श लेकर ही दवा लेना है.
दवा लेते समय आपने नोटिस किया होगा कि किसी-किसी पैकेट पर लाल पट्टी(Red Strip On Medicine) होता है. ये रेड स्ट्रिप उस दवा के बारे में बहुत महत्वपूर्ण जानकारी देता है, इसलिए ये आपको भी जानना जरूरी है. ये रेड स्ट्रिप टैबलेट और कैप्सूल दोनों पर हो सकता है. अगर कोई भी बिना डॉक्टर के सलाह से ये दवा खाता है तो उसका बड़ा साइड इफेक्ट हो सकता है, जिसकी वजह से जीवन का भी खतरा हो सकता है.
इस रेड स्ट्रिप का मतलब दवा को बिना डॉक्टर के सलाह से नहीं लेना है. ये लाल पट्टी ज्यादातर एंटीबायोटिक्स पर देखा जाता है. किसी दवा पर रेड स्ट्रिप का मतलब ये चेतावनी है कि बिना डॉक्टर के परामर्श से इस दवा का बड़ा साइड इफेक्ट हो सकता है. आज के समय में बहुत से लोग दवा का एक्सपायरी डेट चेक करके खरीदते हैं. जिस तरीके से किसी दवा के लिए एक्सपायरी डेट महत्वपूर्ण होता है उसी तरीके से ये रेड स्ट्रिप भी जरूरी है. इसलिए दवा खरीदते समय एक्सपायरी डेट के साथ रेड स्ट्रिप भी चेक करना चाहिए.

इसलिए दवा खुद से नहीं लेनी चाहिए और न ही दुकानदार (केमिस्ट) के सुझाव से लेनी चाहिए. ये बहुत जरूरी है कि किसी भी दवा को खाने से पहले डॉक्टर या हेल्थ एक्सपर्ट से सलाह लिया जाय खासतौर पर तब तो जरूर लेना चाहिए जब दवा पर लाल पट्टी बना हो.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment