Follow Us

दुनिया के करीब 49 देशों में देह व्‍यापार गैरकानूनी नहीं है यानी वैध है

दुनिया के करीब 49 देशों में देह व्‍यापार गैरकानूनी नहीं है यानी वैध है

दुनिया के करीब 49 देशों में देह व्‍यापार गैरकानूनी नहीं है यानी वैध है. वहीं, कुछ देशों में इस पेशे को सशर्त मान्यता दी गई है. दुनिया के हर हिस्‍से में देह व्‍यापार राजा-महाराजाओं, नवाबों के दौर से पेशे के तौर पर मौजूद रहा है. ज्‍यादातर देशों में इस पेशे से जुड़े लोगों को समाज से अलग रखा जाता है. वहीं, इस पेशे को कानूनी दर्जा देने वाले देशों ने इससे जुड़े लोगों को समाज का हिस्‍सा बने रहने में मदद की है. कानून के लिहाज से देखें तो मुस्लिम देशों को इस मामले में काफी सख्‍त माना जाता है. यही नहीं, मुस्लिम देशों में देह व्‍यापार के लिए कड़ी सजा का प्रावधान भी रहता है. लेकिन, एक मुस्लिम देश ऐसा भी है जहां, देह व्‍यापार को कानूनी दर्जा मिला हुआ है.

भारत में भी छुप-छुपाकर देह व्‍यापार होता है, लेकिन अब तक इसे कानूनी दर्जा नहीं दिया गया है. वहीं, भारत के पड़ोसी मुस्लिम देश बांग्लादेश में देह व्‍यापार गैरकानूनी नहीं है. बांग्‍लादेश की सरकार ने इस पेशे से जुड़े लोगों के लिए कुछ कायदे-कानून बनाए हुए हैं. बांग्लादेश में देह व्‍यापार कोई भी शुरू नहीं कर सकता है. इसके लिए सबसे पहले रजिस्ट्रेशन कराना होता है. साथ ही एक एफिडेविट देना होता है. इसमें लिखा जाता है कि पेशे को अपनाने वाली महिला अपनी मर्जी से यह काम शुरू कर रही हैं, क्योंकि उसे कोई दूसरा काम नहीं मिल रहा था.

बांग्‍लादेश में 1.4 लाख महिलाएं पेशे में
बांग्लादेश में देह व्‍यापार पर सरकारी नियंत्रण रहता है. संयुक्‍त राष्‍ट्र एड्स की 2016 में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, बांग्लादेश में 1,40,000 महिलाएं देह व्‍यापार से जुड़ी हुई हैं. इसमें बताया गया है कि बांग्लादेश में देह व्‍यापार का सबसे बड़ा इलाका दौलतदिया है. इस इलाके में करीब 1,300 महिलाएं इस पेशे से जुड़ी हुई हैं. बांग्लादेश में बेशक देह व्‍यापार को कानूनी मान्यता मिली हुई है, लेकिन संविधान में जुआ और देह व्‍यापार को रोकने की कोशिशें करने के प्रावधान हैं. बांग्लादेश में कानून कहते हैं कि बाल देह व्‍यापार, जबरन देह व्‍यापार और बिना लाइसेंस वाले देह व्‍यापार के ठिकानों पर रोक लगी हुई है.

न्यूजीलैंड में साल 2003 में देह व्‍यापार को कानूनी मान्यता दी गई. इसके लिए बकायदा सार्वजनिक स्वास्थ्य और रोजगार कानून के तहत देह व्‍यापार के अड्डों को लाइसेंस जारी किए जाते हैं. यहां काम करने वाली महिलाओं को दूसरे सेक्‍टर्स में काम करने वालों की तरह सामाजिक लाभ मिलते हैं. देह व्यापार के मामले में नीदरलैंड्स के एम्सटर्डम का रेड लाइट एरिया दुनिया की सबसे मशहूर जगह है. वहीं, जर्मनी में देह व्‍यापार को सबसे पहले कानूनी अधिकार दिया गया था. यहां 1927 से ही देह व्‍यापार के लिए लाइसेंस व्यवस्था है. इस पेशे से जुड़ी महिलाओं को स्वास्थ्य सुविधाओं के साथ इंश्योरेंस भी उपलब्‍ध कराया जाता है. जर्मनी में यौनकर्मी अपनी कमाई पर टैक्स भी देती हैं. यही नहीं, उनके लिए पेंशन की व्‍यवस्‍था भी है.

ऑस्ट्रिया में देह व्‍यापार वैध पेशा है. इससे जुड़ी महिलाओं की सेहत का भी ध्‍यान रखा जाता है. ऑस्ट्रिया में पेशे से जुड़ने वाली महिलाओं का रजिस्ट्रेशन होता है. फिर समय-समय पर उनकी सेहत की जांच की जाती है. यहां कम से कम 19 साल की लड़की ही इस पेशे को अपना सकती है. यहां महिलाएं अपनी कमाई पर सरकार को टैक्स देती हैं. ऑस्ट्रेलिया में देह व्‍यापार को लेकर अलग-अलग राज्य में अलग कानून हैं. कुछ राज्‍यों में इसे कानूनी दर्जा मिला हुआ है तो कुछ में ये गैरकानूनी है. ऑस्‍ट्रेलिया में भी देह व्‍यापार के अड्डों के लिए लाइसेंस की व्यवस्था है. बेल्जि‍यम में देह व्‍यापार के लिए लाइसेंस मिलता है. यहां इस पेशे को कला के तौर पर लिया जाता है.
दक्षि‍ण अमेरिकी देश ब्राजील में स्‍वतंत्र तौर पर देह व्‍यापार लीगल है. वहीं, देह व्‍यापार के अड्डे चलाना या महिलाओं को यौनकर्मियों के तौर पर रखना गैरकानूनी है. आंकड़ों के मुताबिक, ब्राजील में करीब 5,00,000 बच्चे देह व्‍यापार का हिस्सा हैं. कनाडा में 2014 में लागू नया कानून देह व्‍यापार को कानूनी अधि‍कार देता है. हालांकि, इसे कारोबार के तौर पर अपनाना गैरकानूनी है. ग्रीस में देह व्‍यापार को कानूनी मान्‍यता मिली हुई है. यहां यौनकर्मी को रजिस्‍ट्रेशन और मेडिकल बीमा कराना होता है. ग्रीस में यौनकर्मी को आईडी कार्ड जारी किया जाता है. इक्‍वाडोर में देह व्‍यापार और अड्डे चलाना वैध है. हालांकि, जबरन देह व्‍यापार करवाना गैरकानूनी है

pnews
Author: pnews

Leave a Comment