Follow Us

8 गोलियां लगने के बाद प्रेम विवाह करने वाले पीड़िता ने पुलिस मुठभेड़ को बताया सही

8 गोलियां लगने के बाद प्रेम विवाह करने वाले पीड़िता ने पुलिस मुठभेड़ को बताया सही

करीब दो महीने पहले गांव ऊण में प्रेम विवाह से क्षुब्ध होकर पिता सहित कई लोगों की फायरिंग मामले में जहां आरोपी पक्ष के लोगों ने पुलिस पर फर्जी मुठभेड़ में एक आरोपी को गोली मारने के आरोप लगाकर दादरी में धरना दिया जा रहा है. वहीं, 8 गोलियां लगने से घायल हुई पीड़िता ने ससुरालियों के साथ मिलकर पुलिस की मुठभेड़ मामले में आरोपी पक्ष पर ही आरोप लगाए. पीड़िता व परिवार के लोगों ने कहा कि पुलिस की फर्जी मुठभेड़ नहीं बल्कि आरोपी को काबू करने के लिए गोली चलाई थी, जो आरोपी पक्ष के लोग धरने पर बैठे हैं, वे अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी बचाने के लिए ड्रामा कर रहे हैं.
बता दें कि गांव ऊण निवासी मोहित ने पास के रोहतक जिला के गांव पिलाना निवासी साक्षी के साथ दो माह पहले प्रेम विवाह किया था, जिसके बाद शादी से क्षुब्ध होकर पिता ने कुछ लोगों के साथ गांव ऊण पहुंचकर मोहित को गोली मारते हुए बेटी को अपने साथ ले गए थे. बाद में बेटी को 8 गोलियां मारकर फरार हो गए थे. इस मामले में पुलिस ने कुछ दिन बाद में तीन आरोपियों को मुठभेड़ में काबू करने का दावा किया था और एक आरोपी के पैर में गोली भी लगी थी. आरोपी पक्ष द्वारा दादरी के लघु सचिवालय में धरना देते हुए पुलिस पर फर्जी मुठभेड़ का आरोप लगाते हुए ठोस कार्रवाई की मांग की जा रही है.

आरोपी पक्ष द्वारा धरना देने के बाद पीड़िता ने अपने ससुरालिया के साथ मीडिया के सामने आरोपी पक्ष पर कई आरोप लगा.ए साक्षी ने अपने पति मोहित व सास शर्मिला के साथ बताया कि आरोपी पक्ष फायरिंग करने वाले दो अन्य आरोपियों को बचाने के लिए ड्रामा कर रहे हैं. पुलिस को अगर 10 लाख रुपए दिए हैं तो भी वह आरोपियों की गिरफ्तारी से बचने के लिए दिये होंगे. पुलिस की फर्जी मुठभेड़ नहीं है आरोपियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है. पीड़ित परिवार ने पुलिस से हमला करने वाले अन्य आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग उठाई है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment