Follow Us

श्री राम के लिए इस कठिन काम को तैयार PM मोदी, ठंड में करेंगे ये काम

श्री राम के लिए इस कठिन काम को तैयार PM मोदी, ठंड में करेंगे ये काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 जनवरी को अयोध्या में रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा समारोह में भाग लेंगे. ये समारोह 12.30 बजे से शुरू होगा. इसके लिए अयोध्या में तमाम तैयारियां पूरी हो रही है. आज मंगलवार से धार्मिक अनुष्ठान भी शुरू कर दिया गया है. वहीं इन सब तैयारियों के बीच श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंददेव महाराज ने बड़ी जानकारी दी है.

मीडिया रिपोर्ट में छपी खबर के मुताबिक कोषाध्यक्ष गोविंददेव महाराज ने बताया है कि धार्मिक कार्यक्रम के आखिरी 3 दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चौकी पर सिर्फ कंबल बिछाकर सोएंगे.

सिर्फ फल का करेंगे सेवन
पीएम मोदी प्रभु रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में शामिल होंगे, ऐसे में उन्हें तमाम तरह के धार्मिक और वैदिक नियमों का पालन करना होगा. इस संबंध में कोषाध्यक्ष गोविंददेव महाराज ने बताया कि आखिरी के 3 दिन पीएम मोदी अपनी चौकी पर केवल कंबल बिछाकर सोएंगे. इन 3 दिनों में वो सिर्फ फल का सेवन ही करेंगे. महाराज ने बताया कि पीएम मोदी ने खुद उनसे कहा था कि वो कठिन से कठिन जो भी होगा, वो सब करने को तैयार हैं. इसके अलावा उनको विशेष मंत्रों का जाप भी करना है ,जो उन्हें बता दिया गया है.

जटायु की मूर्ति का करेंगे पूजन
इसके अलावा इंडिया टीवी में छपी खबर के मुताबिक जिन लोगों ने मंदिर के लिए बलिदान दिया है, उन सभी के प्रतीक के रूप में जटायु का पूजन खुद पीएम मोदी करेंगे. इसके अलावा जिन मजदूरों ने मंदिर निर्माण में भूमिका निभाई है, उनसे भी पीएम मोदी मुलाकात करेंगे.

मुख्य यजमान नहीं होंगे पीएम मोदी
बड़ी खबर ये है कि PM मोदी राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के दिन मुख्य यजमान नहीं होंगे. दैनिक भास्कर में छपी खबर के मुताबिक श्रीराम जन्मभूमि ट्रस्ट के सदस्य डॉक्टर अनिल मिश्रा व उनकी पत्नी मुख्य यजमान होंगी. दरअसल रामलला प्राण-प्रतिष्ठा अनुष्ठान के मुख्य यजमान गृहस्थ जीवन जीने वाले व्यक्ति ही हो सकते हैं. इसलिए ऐसा फैसला लिया गया है. हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment