Follow Us

जयपुर ACB टीम ने IAS प्रेमसुख बिश्नोई को रिश्वत मामले में किया गिरफ्तार

जयपुर ACB टीम ने IAS प्रेमसुख बिश्नोई को रिश्वत मामले में किया गिरफ्तार

जयपुर में ACB की टीम ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है. भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो की टीम ने रिश्वत मामले में मत्स्य विभाग के डायरेक्टर प्रेमसुख बिश्नोई और एडिशनल डायरेक्टर राकेश देव को गिरफ्तार किया है. इन दोनों अफसरों को टीम ने रंगे हाथों 35 हजार रुपए की घूस लेते ट्रेप किया है. दोनों पकड़े गए आरोपियों में से प्रेमसुख बिश्नोई आईएएस अफसर है. कार्रवाई को अंजाम देने वाले एसीबी के एडीजी हेमंत प्रियदर्शी ने जानकारी देते हुए बताया कि फिलहाल इन दोनों ऑफिसर्स से डीआईजी डॉ. रवि के नेतृत्व में पूछताछ जारी है.

लाइसेंस जारी करने के बदले 1 लाख मांगे
पूछताछ के दौरान एसीबी के एडीजी हेमंत प्रियदर्शी ने बताया कि एक परिवादी ने एसीबी में शिकायत की थी. जिसमें बताया था कि टोंक के अन्नपूर्णा तालाब में मछली पकड़ने और मछली पालन करने के लिए उसे मत्स्य विभाग से लाइसेंस लेना था. लाइसेंस के बदले विभाग के डायरेक्टर आईएएस प्रेमसुख बिश्नोई और एडिशनल डायरेक्टर राकेश देव उससे 1 लाख रुपए की रिश्वत की मांग कर रहे थे. जिसे देने में वह असमर्थ था तो उसे बार बार परेशान कर रहे हैं. परेशानी में आकर उसने जयपुर की ACB कार्यालय में मामला दर्ज करवाया. जहां डीआईजी डॉ. रवि के निर्देशन में एडिशनल एसपी हिमांशु कुलदीप ने शिकायत का सत्यापन किया, जो सही पाई गई. इसके बाद दोनों के लिए ट्रेप का जाल बिछाया गया. पूरी प्लानिंग के बाद शुक्रवार को इन दोनों आरोपियों को 35 हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार किया.

बीकानेर का रहने वाला है आईएएस प्रेमसुख बिश्नोई
एसीबी की पूछताछ में सामने आया है कि आरोपी आईएएस प्रेमसुख बिश्नोई बीकानेर का है जबकि दूसरा आरोपी राकेश देव जयपुर का रहने वाला है. फिलहाल दोनों से आगे पूछताछ लगातार एसीबी मुख्यालय में की जा रही है. साथ ही एसीबी की एक टीम दोनों आरोपियों के ठिकानों पर तलाशी ले रही है. आरोपी प्रेम सुख बिश्नोई पहले आरएएस था फिर प्रमोशन के बाद आईएएस बन गया.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment