Follow Us

सरकार पर भड़कीं आशा वर्कर, बोलीं- तानाशाही से कतई डरने वाले नहीं

सरकार पर भड़कीं आशा वर्कर, बोलीं- तानाशाही से कतई डरने वाले नहीं

उन्होंने बताया कि आशा वर्करों और यूनियन की नेताओं को अनेकों जगह पर उनके घरों में नजरबंद किया गया, रास्तों में ही उनकी गाड़ियों को रोका गया. उनकी गाड़ी को जब्त कर लिया गया और जबरदस्ती आशा वर्करों को बसों में बैठाकर दूरदराज के इलाकों में छोड़ दिया गया. जो की आशाओं और सीटू नेताओं की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर हमला है.

उन्होंने आगे कहा कि 73 दिन की लंबी हड़ताल के बाद मुख्यमंत्री के साथ हुआ समझौता लागू नहीं किया जा रहा. पहले आंदोलनकारियों के साथ समझौता करो, फिर उससे लागू न करो ये सरकार आदत का हिस्सा बन चुका है. उन्होंने कहा कि सरकार जनतांत्रिक अधिकारों पर हमला करना बंद करे, आशाओं के साथ हुआ समझौता लागू करवाने के लिए आशा वर्कर्स आज प्रदेशभर में भाजपा विधायकों के आवास पर प्रदर्शन कर रही है.

 

pnews
Author: pnews

Leave a Comment