Follow Us

समस्तीपुर : 3057 मतदान केन्द्रों पर मतदान कराने हेतु प्रथम पाली में 1237 एवं द्वितीय पाली में 1143 कुल 2380 को स्नेहा कुमारी के निर्देशन में प्रशिक्षण कराया गया*

*समस्तीपुर : 3057 मतदान केन्द्रों पर मतदान कराने हेतु प्रथम पाली में 1237 एवं द्वितीय पाली में 1143 कुल 2380 को स्नेहा कुमारी के निर्देशन में प्रशिक्षण कराया गया*

समस्तीपुर : लोकसभा आम निर्वाचन 2024 के सफल संचालन हेतु संत कबीर महाविद्यालय में चल रहे प्रशिक्षण के छठे दिन जिले के कुल 3057 मतदान केन्द्रों पर मतदान कराने हेतु प्रथम पाली में 1237 एवं द्वितीय पाली में 1143 कुल 2380 द्वितीय मतदान पदाधिकारियों का प्रशिक्षण वरीय उपसमाहर्ता सह जिला प्रशिक्षण कोषांग के नोडल पदाधिकारी स्नेहा कुमारी के निर्देशन में प्रशिक्षण कराया गया । इस प्रशिक्षण का संचालन मुख्य मास्टर ट्रेनर सतीश कुमार यादव के नेतृत्व में जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनरों द्वारा किया गया । प्रशिक्षण में शिक्षा विभाग के समावेशी शिक्षा के बी० आर० पी० राजेश कुमार श्रीवास्तव, सुशील कुमार पाण्डेय, सुशील कुमार यादव,पवन कुमार सिन्हा,अजय कुमार,अमित रौशन तथा रंजना कुमारी ने सभी प्रशिक्षुओं को नि:शक्त एवं दिव्यांग मतदाताओं के मतदान केन्द्र पर उनके द्वारा मतदान करने के नियमों की जानकारी देते हुए बताया गया कि यदि मतदान केन्द्र पर कोई दृष्टिबाधित या अन्य शारीरिक विकलांगता के कारण कोई ऐसे मतदाता जो बी०यू० पर अंकित प्रतिक चिन्ह को पहचानने में असमर्थ है तो वैसे मतदाता को उसके इच्छानुसार मत रिकॉर्ड करने के लिए कम-से-कम 18 वर्ष या इससे अधिक आयु के किसी सहयोगी को लेकर मतदान प्रकोष्ठ में जाने की अनुमति दी जाएगी वहीं शारीरिक रूप से नि:शक्त वैसे मतदाता जो बी०यू० का बटन दबाकर स्वयं मतदान डालने में सक्षम है तो इह स्थिति में उनके सहायक को केवल मतदान प्रकोष्ठ के प्रवेश द्वार तक साथ जाने की अनुमति दी जाएगी मतदान प्रकोष्ठ में अन्दर प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी। किसी व्यक्ति को एक से अधिक दिव्यांग मतदाता के सहयोगी के रूप में कार्य की अनुमति नहीं दी जाएगी। अधिकृत मतदान सहायक के दायें हाथ की तर्जनी अंगुली में अमिट स्याही लगाई जाएगी साथ ही इस परिस्थिति में पीठासीन पदाधिकारी प्रपत्र -14 ए का संधारण करेंगे एवं सहयोगी से हस्ताक्षर अथवा अंगूठा का निशान लेंगे सूची का भी संधारण करेंगे । यदि कोई दिव्यांग नि:शक्त मतदाता वहील चेयर से मतदान केन्द्र पर आएंगे और वे स्वयं से चलने में समर्थ नहीं है तो वे अपना व्हील चेयर वोटिंग कम्पार्टमेन्ट तक ले जा सकेंगे । वहीं जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनरों ने प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे द्वितीय मतदान पदाधिकारियों को उनके कार्यों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि द्वितीय मतदान पदाधिकारी मतदाता रजिस्टर (17 ए ), मतदाता पर्ची एवं अमिट स्याही का प्रभारी होंगे। मतदान केन्द्र पर प्रथम मतदान पदाधिकारी द्वारा मतदाता की पहचान सुनिश्चित हो जाने के बाद मतदाता द्वितीय मतदान पदाधिकारी के पास पहुंचते है । जैसे ही मतदाता द्वितीय मतदान पदाधिकारी के पास आयेंगे वह मतदाता के बायें हाथ की तर्जनी अंगुली का निरीक्षण करेंगे की कोई अमिट स्याही का चिन्ह तो नहीं है तत्पश्चात अमिट स्याही को मतदाता के बायें हाथ की तर्जनी अंगुली के प्रथम जोड़ से नाखून के अंत तक एक रेखा में दी गई स्टीक के माध्यम से लगाएंगे । द्वितीय मतदान अधिकारी मतदाता रजिस्टर ( 17 ए ) के काॅलम 2 में मतदाता की मतदाता सूची का क्रमांक संख्या लिखेंगे एवं काॅलम 3 में ईपिक के लिए ईपी तथा अन्य विकल्प के आधार पर पहचान होने पर विकल्प के नम्बर का अंतिम चार अंक दर्ज करने के साथ ही संबंधित दस्तावेज का नाम भी लिखेंगे। वहीं काॅलम 4 में संबंधित मतदाता से हस्ताक्षर अथवा बायें हाथ के अंगूठा का निशान लेंगे। यदि मतदाता हस्ताक्षर करने अथवा अंगूठा का निशान देने से इंकार करते है तो उसे मतदान करने की अनुमति नहीं दी जाएगी और मतदाता रजिस्टर के अभियुक्ति काॅलम में “मत करने से इंकार” लिखेंगे तथा उसके नीचे पीठासीन अधिकारी अपना हस्ताक्षर करेंगे। मतदाता से हस्ताक्षर अथवा अंगूठा का निशान लेने के बाद द्वितीय मतदान अधिकारी मतदाता पर्ची तैयार कर संबंधित मतदाता को जारी करेंगे । प्रशिक्षण में जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनरों के द्वारा सभी द्वितीय मतदान पदाधिकारियों को मॉक पोल कराना ,माॅक पोल को मिटाना, मतदान हेतु ईवीएम सील कर तैयार करना, पीठासीन का रिपोर्ट, पीठासीन की घोषणा, पीठासीन की डायरी, मत-पत्र लेखा, मतदाता रजिस्टर इत्यादि प्रपत्रों के नमूनों को सभी प्रशिक्षुओं से संधारित करने का तरीका बताया गया साथ ही मतदान केन्द्रों पर निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान संपन्न कराने हेतु मतदान के पूर्व, दरमियान एवं मतदान के पश्चात किये जाने वाले सावधानियों के साथ-साथ निविदत मत ,चैलैंज्ड वोट,टेस्ट वोट सहित अन्य सभी बातों की विस्तृत जानकारी दी गई । प्रशिक्षण में शिक्षा विभाग के डीपीओ प्राथमिक शिक्षा एवं सर्व शिक्षा अभियान मानवेन्द्र कुमार राय, डीपीओ स्थापना कुमार सत्यम, डीपीओ योजना एवं लेखा योजना नितेश कुमार,प्रशिक्षण कोषांग के सहायक प्रशासी पदाधिकारी मनोज कुमार झा, तथा जिला मास्टर ट्रेनर पवन कुमार यादव, अरुण राम, रामकिशोर राय,मनीष चन्द्र प्रसाद, तनवीर आलम, अशोक कुमार, अमरनाथ दास, विनोद कुमार, कौशल कुमार, राकेश कुमार रंजन,पवन शंकर भारद्वाज, अखिलेश कुमार सिन्हा, विजय कृष्ण,अविनाश कुमार, रामदयाल सिंह सहित अन्य सभी जिला स्तरीय मास्टर ट्रेनर उपस्थित थे ।

pnews
Author: pnews

Leave a Comment