Follow Us

गाजियाबाद में एक ही परिवार के तीन प्रत्याशी मैदान में, पति, पत्नी के साथ भतीजे

गाजियाबाद में एक ही परिवार के तीन प्रत्याशी मैदान में, पति, पत्नी के साथ भतीजे

लोकसभा चुनाव की सियासी बिसात बिछना शुरू हो गई है. दूसरे चरण में यूपी की 8 सीटों पर वोट डाले जाएंगे, जिसमें गाजियाबाद सीट भी शामिल है. इस सीट पर दिलचस्प सियासी लड़ाई देखने को मिल रही है. जहां परिवार के सदस्य ही आमने-सामने हैं. पति-पत्नी के साथ भतीजा भी चुनावी ताल ठोक रहा है. इसको लेकर सियासी गलियारों में चर्चाएं शुरू हो गई हैं.

पति-पत्नी और भतीजा मैदान में
गाजियाबाद सीट से बसपा के टिकट पर नंद किशोर पुंडीर चुनाव लड़ रहे हैं. साथ ही उनकी पत्नी कविता और भतीजा अभिषेक पुंडीर भी निर्दलीय मैदान में उतर चुका है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बसपा प्रत्याशी नंदकिशोर पुंडीर और निर्दलीय चुनाव लड़ रहे अभिषेक और कविता ने एक दूसरे के खिलाफ चुनाव लड़ने को लेकर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है.
जानकारों की मानें तो बसपा प्रत्याशी नंद किशोर पुंडीर, पत्नी कविता और भतीजे अभिषेक का नामांकन करने के पीछे एक वजह यह भी हो सकती है कि अगर किसी खामी के चलते बसपा प्रत्याशी का नामांकन खारिज होता है तो वह पत्नी के भतीजा के जरिए चुनाव लड़ सकते हैं. हालांकि तीनों के नामांकन स्वीकार कर लिए गए लेकिन नाम वापसी की आखिरी तिथि तक दोनों में से किसी ने भी अपना नाम वापस नहीं लिया.

आवंटित हुए सिंबल
जिला निर्वाचन कार्यालय की तरफ से तीनों को चुनाव चिन्ह भी आवांटित हो चुके हैं. बसपा प्रत्याशी हाथी के सिंबल पर चुनाव लड़ेंगे जबकि उनकी पत्नी कविता को टेबल और भतीजे अभिषेक पुंडीर को खाट चुनाव चिन्ह मिला है. बता दें कि गाजियाबाद सीट से सबसे ज्यादा 35 प्रत्याशियों ने नामांकन किया है. यहां से बीजेपी के टिकट पर अतुल गर्ग चुनाव लड़ रहे हैं जबकि गठबंधन कोटे से इस सीट पर कांग्रेस की डॉली शर्मा चुनाव लड़ रही हैं. 2019 में यहां से बीजेपी के वीके सिंह चुनाव जीते थे लेकिन इस बार बीजेपी ने नए चेहरे पर दांव लगाया है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment