Follow Us

केके पाठक के नये फरमान से शिक्षकों में मचा हड़कंप, गोपालगंज में 240 शिक्षकों का कटा वेतन

केके पाठक के नये फरमान से शिक्षकों में मचा हड़कंप, गोपालगंज में 240 शिक्षकों का कटा वेतन

बिहार के शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक की ओर से लगातार कोई न कोई आदेश जारी होते रहता है. उनके सख्त एक्शन की हमेशा बड़ी चर्चा होती है. हाल में केके पाठक ने पूरे बिहार के शिक्षा विभाग से जुड़े अधिकारियों के एक दिन का वेतन काटने का फैसला लिया था. इसी के तहत बिहार के 509 शिक्षकों का वेतन कट गया है. इनमें से 240 शिक्षक तो सिर्फ गोपालगंज से हैं. वेतन कटौती के बाद से शिक्षकों में हड़कंप मचा हुआ है. जानकारी के मुताबिक, ये कार्रवाई निरीक्षण के दौरान स्कूलों से गायब मिले शिक्षकों पर हुई है

दरअसल, केके पाठक की ओर से शिक्षकों को निर्देश है कि वो समय पर स्कूल पहुंचे और बच्चों को पढ़ाएं. उनकी ओर से साफ कहा गया है कि अगर कोई शिक्षक स्कूल से गायब मिला तो उसका वेतन काटा जाएगा. इसी आदेश के बाद शिक्षा विभाग के निर्देश पर सरकारी स्कूलों की प्रतिदिन जांच की जा रही है. जांच में प्रदेश भर में 509 शिक्षक कक्षा से गायब पाए गए.उसके बाद केके पाठक की ओर से इन शिक्षकों पर कार्रवाई करते हुए शिक्षा विभाग और संबंधित जिला शिक्षा पदाधिकारी को आदेश निर्गत किया गया है. आदेश में कहा गया है कि ऐसे शिक्षकों का वेतन काट दिया जाए और अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाए.
गोपालगंज जिले के 1,792 स्कूलों की जांच के लिए 230 अधिकारी व कर्मियों को जिम्मेदारी दी गई है. प्रत्येक निरीक्षी पदाधिकारी या कर्मी को आठ से 10 स्कूल जांच के लिए आवंटित किए गए हैं. जिला शिक्षा पदाधिकारी सुभाष गुप्ता ने बताया कि अपर मुख्य सचिव केके पाठक के निर्देश के आलोक में स्कूलों की जांच की जा रही है. जांच के लिए 230 अधिकारी लगाए गए हैं. उन्होंने कहा कि जांच दल की रिपोर्ट के अनुसार 240 शिक्षक अप्रैल माह में गायब पाए गए जिनका वेतन काटते हुए विभागीय कार्रवाई की जा रही है. यह जांच निरंतर चलती रहेगी. शिक्षा विभाग का निर्देश है कि शिक्षकों की उपस्थिति पंजी की तस्वीर विभाग को भेजी जानी है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment