Follow Us

नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, शिक्षा विभाग से हटाए गए केके पाठक

नीतीश सरकार का बड़ा फैसला, शिक्षा विभाग से हटाए गए केके पाठक

लंबे समय से चले आ रहे विवाद के बाद शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक को आखिरकार उनके पद से हटा दिया गया. सरकार ने शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव के पद से केके पाठक को हटा दिया. जिसके बाद उन्हें राजस्व भूमि सुधार विभाग का कार्यभार दिया गया है. बता दें कि केके पाठक अपने फैसले को लेकर एक बार फिर से इन दिनों चर्चा में आ गए थे. दरअसल, भीषण गर्मी के कारण स्कूल के समय बच्चे बेहोश होकर गिरने लगे थे, लेकिन उनके तरफ से स्कूल बंद करने का फरमान नहीं दिया गया था. विभाग की तरफ गर्मी के बावजूद स्कूल की टाइमिंग में बदलाव को लेकर अधिसूचना जारी किया गया था. जिसके बाद मुख्यमंत्री के मुख्य सचिव ने राज्य के स्कूलों में छुट्टी का आदेश जारी कर दिया. जिसके चलते केके पाठक नाराज चल रहे थे और लंबी छुट्टी पर चले गए थे.

केके पाठक के स्थान पर अब एस सिद्धार्थ शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव का कार्य देखेंगे. इसके अलावा दीपक कुमार सिंह जो पहले राजस्व एवं भूमि सुधार विभाग के प्रमुख सचिव थे. उन्हें अगले आदेश तक ग्रामीण कार्य विभाग के प्रमुख सचिव पद पर तैनात किया गया है. अरविंद कुमार चौधरी प्रधान सचिव वित्त विभाग को अगले आदेश तक प्रधान सचिव गृह विभाग के पद पर तैनात किया गया है.

वहीं अरविंद चौधरी प्रधान सचिव निगरानी विभाग परीक्षा नियंत्रक बिहार राज्य संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद जांच आयुक्त और सामान्य प्रशासन विभाग के अतिरिक्त प्रभार में पहले जैसे बने रहेंगे. पंकज कुमार पाल को अगले आदेश तक प्रबंध निदेशक बिहार औद्योगिक क्षेत्र विकास प्राधिकार का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है. राजकुमार अगले आदेश तक बंदोबस्त पदाधिकारी भोजपुर आरा के अतिरिक्त प्रभार पर रहेंगे. वो समाज कल्याण विभाग के निर्देश के तौर पर वह काम कर रहे थे. महेंद्र कुमार अगले आदेश तक खेल निदेशक बिहार राज्य जल विद्युत निगम के निर्देश का अतिरिक्त प्रभार संभालेंगे.

 

pnews
Author: pnews

Leave a Comment