राष्ट्रीय

श्रद्धा जैसा एक और हत्याकांड; बिलासपुर में दोस्त बन बैठा ‘कातिल’, लड़की को ऐसे उतारा मौत के घाट

श्रद्धा जैसा एक और हत्याकांड; बिलासपुर में दोस्त बन बैठा 'कातिल', लड़की को ऐसे उतारा मौत के घाट

श्रद्धा जैसा एक और हत्याकांड; बिलासपुर में दोस्त बन बैठा ‘कातिल’, लड़की को ऐसे उतारा मौत के घाट

दिल्ली में हुए श्रद्धा हत्याकांड  से पूरा देश सन्न है। अभी यह मामला पूरा तरह सुलझा भी नहीं है कि अब एक और सनसनीखेज वारदात ने सभी को हिलाकर रख दिया है। दिल्ली से सैकड़ों किलोमीटर दूर छत्तीसगढ़ के बिलासपुर  में श्रद्धा जैसे ही एक हत्याकांड को अंजाम देने की कोशिश की गई है। उसका दोस्त ही लड़की का कातिल बन बैठा था। बताया जा रहा है कि हत्यारे ने कथित तौर पर एक महिला की गला दबाकर हत्या  कर दी और शव को चार दिनों तक कार में रखा रहा। मामला उस समय सामने आया जब जिस कार में शव रखा गया था, उससे दुर्गंध आने लगी। पुलिस  ने आरोपी को गिरफ्तार कर जांच शुरू कर दी है।

पुलिस के मुताबिक, सेक्टर 7 भिलाई की रहने वाली प्रियंका सिंह बिलासपुर के कोतवाली थाना क्षेत्र के टिकरापारा में किराए के माकन में रहकर प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रही थी। इस बीच उसकी मुलाकात मेडिकल संचालक आशीष साहू से हुई। दोनों की जान पहचान धीरे धीरे दोस्ती में बदल गई। प्राथमिक पूछताछ में आरोपी आशीष साहू ने बताया कि दोनों मिलकर शेयर मार्केट में पैसे लगाते थे, जिसमें लंबा नुकसान हुआ था। इस बीच पैसे के लेनदेन को लेकर दोनों के बीच खटपट शुरू हो गई थी।

आरोप हैं कि प्रियंका सिंह ने आशीष साहू पर पैसे के लिए दबाव बनाना शुरू किया था। इस पर दोनों के बीच विवाद हुआ और फिर युवक ने गाड़ी में दयालबंद के पास उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। इतना ही नहीं, आरोपी ने युवती की लाश को गाड़ी में भरकर अपने कस्तूरबा नगर स्थित घर पर लाकर रख दिया। 4 दिनों तक युवती का शव गाड़ी के अंदर ही पड़ा रहा। जब गाड़ी में बंद लाश से बदबू उठानी शुरू हुई, तब जाकर इसकी भनक पुलिस को लगी।

फिलहाल पुलिस बंद कार से लाश को बरामद कर आरोपी आशीष साहू को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। इधर इस घटना के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है। हालांकि पुलिस इस मामले में अन्य पहलू पर भी जांच कर रही है, जिसके बाद कई खुलासे हो सकते हैं।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close