Follow Us

आकाश आनंद, जिन्हें मायावती ने बनाया अपना उत्तराधिकारी

आकाश आनंद, जिन्हें मायावती ने बनाया अपना उत्तराधिकारी

बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती ने रविवार 10 दिसंबर 2023 को बड़ा ऐलान किया है. मायावती ने अपने छोटे भाई आनंद कुमार के बेटे आकाश आनंद को अपना उत्तराधिकारी घोषित किया है. आकाश को इससे पहले भी पार्टी में कई अहम जिम्मेदारी मिल चुकी हैं. हालिया संपन्न हुए विधानसभा चुनाव ( राजस्थान, मध्यप्रदेश, तेलंगाना और छत्तीसगढ़ ) के चुनावों की जिम्मेदारी भी उन्ही को दी गई थी. आइए आपको बताते हैं क्यों मायावती ने आकाश को बनाया अपना उत्तराधिकारी और आकाश की पढ़ाई से लेकर राजनीति में आने की पूरी कहानी.

जानें कौन हैं आकाश आनंद
आकाश आनंद को हाल के वर्षों में बहुजन पार्टी के भीतर और बाहर काफी सक्रिय नजर आए. आकाश आनंद को मायावती ने पहले ही नेशनल कोऑर्डिनेटर की जिम्मेदारी दी थी. बसपा का 2014 के बाद से चुनावों में प्रदर्शन काफी खराब रहा है. 2014 के लोकसभा चुनाव में पार्टी को एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं हुई. 2017 में उत्तर प्रदेश में हुए विधानसभा चुनाव में पार्टी को महज 19 सीटों पर जीत मिली. 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बसपा ने सपा से गठबंधन कर लिया और इस चुनाव में उनके 10 लोकसभा सांसद जीते. सपा और बसपा का यह गठबंधन कुछ ही महीने चल पाया और 2022 के विधानसभा चुनाव बसपा ने अकेले ही लड़ा. इस चुनाव में पार्टी बड़ी हार का सामना करना पड़ा. पार्टी को सिर्फ 1 सीट पर ही जीत मिली.

आकाश आनंद का लॉन्च
पार्टी की कम होती लोकप्रियता को बचाने के लिए 2017 में यूपी विधान हारने के बाद सहारनपुर की एक रैली में मायावती ने आकाश आनंद को लॉन्च किया. इसके बाद से लगभग हर रैली में वो मायावती के साथ मंच पर दिखते हैं. 2019 लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान भी वो माया-अखिलेश की संयुक्त रैली में मंच पर देखे गए थे. लोकसभा चुनाव के दौरान उन्होंने बीएसपी के लिए रणनीति बनाई थी. उसी समय से लोगों को लग रहा था कि आने वाले समय में आकाश पार्टी में बड़ी भूमिका निभा सकते हैं. इसके बाद बसपा सुप्रीमो मायावती ने अपने भतीजे आकाश को पार्टी का नेशनल कॉर्डिनेटर बनाया.

स्टार प्रचारक
2019 लोकसभा चुनाव के दौरान मायावती ने अपने भतीजे आकाश आनंद को बीएसपी का स्टार प्रचारक बनाया था. इसी साल 12 जनवरी को सपा से गठबंधन का ऐलान वाला दिन हो या फिर मायावती का जन्मदिन. लखनऊ में बहनजी के बर्थडे के कार्यक्रम में आकाश लगातार उनके साथ थे. इसके अलावा अखिलेश यादव जब मायावती से मिलने उनके घर पहुंचे थे तब भी आकाश मायावती के बगल में मौजूद थे. पार्टी के सभी कार्यक्रमों में उनको देखा जा सकता है. पिछले कुछ समय से आकाश मायावती के साथ साए की तरह रहते हैं.

लंदन से किया MBA
मायावती के उत्तराधिकारी आकाश ने लंदन के एक बड़े कॉलेज से एमबीए की डिग्री हासिल की है. उनके निजी जीवन के बारे में बहुत कुछ सार्वजनिक प्लेटफॉर्म पर नहीं है. लेकिन कहा जाता है कि उनके कहने पर ही मायावती ने ट्विटर पर एंट्री की थी. सूत्रों का कहना है कि यूथ को लुभाने के लिए ही मायावती ने यह निर्णय लिया है.

युवा वोटरों की पसंद
बसपा के सूत्र बताते हैं कि पांच राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव की पूरी जिम्मेदारी आकाश आनंद की ही थी. काफी समय से वो प्रचार और संगठन में मायावती के साथ सक्रिय भूमिका निभा रहे हैं. खासकर युवा और नए वोटरों के बीच बीएसपी को पहुंचाने में मायावती आकाश की मदद ले सकती हैं. बता दें कि बहुजन समाज पार्टी में सांगठनिक स्तर पर कई अहम बदलाव किए गए हैं.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment