Follow Us

भजनलाल शर्मा के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे 55 मेहमान

भजनलाल शर्मा के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे 55 मेहमान

राजस्थान में कल मनोनीत मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री का शपथ ग्रहण समारोह होगा. पहली बार सांगानेर से विधायक बने भजनलाल शर्मा कल दोपहर 12.15 बजे बाद अल्बर्ट हॉल पर प्रदेश के 14वें सीएम की शपथ लेंगे. इसी के साथ दीया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा कैबिनेट मंत्री (डिप्टी सीएम) भी शपथ लेंगे..राज्यपाल कलराज मिश्र शपथ दिलाएंगे…समारोह में पीएम नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के अलावा 16 केंद्रीय मंत्री, 17 मुख्यमंत्री-उपमुख्यमंत्री, 36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रदेशाध्यक्ष सहित भाजपा के कई दिग्गज रहेंगे.

पहली बार सांगानेर से विधायक बने भजनलाल शर्मा राजस्थान के 14वें सीएम पद की शपथ लेने जा रहे हैं. इस आयोजन में दिलचस्प बात ये है कि कल भजन लाल शर्मा राजस्थान के नए मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. संयोगवश 15 दिसंबर यानि कल ही भजनलाल शर्मा का जन्मदिन भी है. राजस्थान में ऐसा पहली बार होगा जब किसी राज्य का मुख्यमंत्री अपने जन्मदिन के दिन मुख्यमंत्री पद पर पद और गोपनीयता की शपथ लेगा. वहीं दिया कुमारी और प्रेमचंद बैरवा कैबिनेट मंत्री (डिप्टी सीएम) की शपथ लेंगे. राज्यपाल कलराज मिश्र दोपहर 12.15 बजे अल्बर्ट हॉल पर शपथ दिलाएंगे. शपथ ग्रहण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह,भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के अलावा 16 केंद्रीय मंत्री, 17 मुख्यमंत्री-उपमुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, 36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रदेशाध्यक्ष सहित भाजपा के कई दिग्गज रहेंगे. उपराष्ट्रपति जगदीप धनकड, लोकसभा स्पीकर ओम बिडला, कार्यवाहक सीएम अशोक गहलोत को भी आमंत्रित किया गया हैं. साथ में प्रमुख साधु-संतों को भी आमंत्रित किया गया हैं.

दरअसल भाजपा ने छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश की तरह राजस्थान में भी मुख्यमंत्री के चयन में चौंकाया हैं. पहली बार विधायक बने भजनलाल शर्मा (55) राज्य के नए मुख्यमंत्री होंगे. भाजपा 60 साल से कम का सीएम तलाश रही थी और यह तलाश भजनलाल शर्मा के रूप में पूरी हुई. इसी के साथ राजस्थान की राजनीति में पीढ़ी बदल गई. प्रदेश में सबसे ज्यादा मतों से जीतने वाली विद्याधर नगर से विधायक दिया कुमारी और दूदू विधायक प्रेम चंद बैरवा उप मुख्यमंत्री मनोनीत किया गया हैं. वरिष्ठ विधायक वासुदेव देवनानी विधानसभा अध्यक्ष होंगे. गौरतलब हैं की भजनलाल शर्मा 35 साल से राजनीति में है. छात्र राजनीति के समय एबीवीपी से जुड़े फिर भाजपा युवा मोर्चा के माध्यम से सक्रिय राजनीति में एंट्री हुई थी. 2014 प्रदेश उपाध्यक्ष बने और फिर 2016 में प्रदेश महामंत्री के रूप में काम शुरू किया, जो अभी तक जारी रहा. शर्मा 1992 में श्रीराम जन्मभूमि आंदोलन में जेल जा चुके हैं. 1990 में एबीवीपी के कश्मीर मार्च में सक्रिय रूप से जुड़े और उधमपुर तक मार्च भी किया. गिरफ्तार भी हुए. इसी तरह मनोनीत डिप्टी सीएम दीया कुमारी विद्याधरनगर से विधायक बनीं. इससे पहले राजसमंद से सांसद थीं. सबसे पहला चुनाव 2013 में सवाईमाधोपुर विधानसभा से लडा और विधायक बनीं. वहीं मनोनीत डिप्टी सीएम प्रेम चंद बैरवा दूदू से कांग्रेस के बाबूलाल नागर को हराकर दूसरी बार विधायक बने. वासुदेव देवनानी अजमेर उत्तर से लगातार 5वीं बार विधायक बने. पहले भाजपा सरकार में मंत्री रहे.

शपथ ग्रहण समारोह में मोदी-शाह और नड्डा सहित 16 केंद्रीय मंत्री आमंत्रित

पीएम मोदी, गृहमंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, नीतिन गडकरी,

स्मृति ईरानी, पीयूष गोयल, धमेन्द्र प्रधान, प्रह्लाद वेंकटेंश जोशी,

अश्चिनी वैष्णव,गजेन्द्र सिंह शेखावत, भूपेन्द्र यादव, हरदीप सिंह पूरी, अनुराग ठाकुर,

अर्जुनराम मेघवाल, नित्यानंद राय, एसपी सिंह बघेल,मनसुख मांडविया को भी आमंत्रित

शपथ ग्रहण समारोह में 17 मुख्यमंत्री-उपमुख्यमंत्री भी आमंत्रित
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, CMभूपेन्द्रभाई पटेल, CM मनोहर लाल खट्टर,
CM मोहन यादव, CM विष्णुदेव साय, CM एकनाथ शिंदे, CMपेमा खांडू,
CMहिमंता बिस्वा सरमा,CMप्रमोद सांवत, CMमाणिक साहा, CMएन वीरेन सिंह,
डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या, ब्रजेश पाठक, डिप्टी सीएम चौना मीन,
डिप्टी सीएम देवेन्द्र फडनवीस, डिप्टी सीएम यानथुंगो पैटन भी होंगे शामिल
शपथ ग्रहण समारोह में 36 राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रदेशाध्यक्ष भी आमंत्रित
असम भाजपा प्रदेशाध्यक्ष भाबेश कलिता, राजस्थान प्रदेशाध्यक्ष सीपी जोशी,

बिहार प्रदेशाध्यक्ष सम्राट चौधरी, छत्तीसगढ प्रदेशाध्यक्ष अरूण साव,

गोवा प्रदेशाध्यक्ष सदानंद तनावड़े, गुजराज प्रदेशाध्यक्ष सीआर पाटिल,

हरियाणा प्रदेशाध्यक्ष नायब सिंह नेगी, हिमाचल प्रदेश से राजीव बिंदल,

जम्मू-कश्मीर से रविन्द्र नैना, झारखंड से बाबूलाल मरांडी, बीवाई विजयेंद्र,

केरल से के.सुरेन्द्रन, एमपी से विष्णुदत्त शर्मा, महाराष्ट्र से चंद्रशेखर को किया आमंत्रित

मणिपुर से शारदा देवी, मेघालय से रिकमन मोमिन, मिरोरम से वेनलाहमुका,

नागालैंड से बेंजामिन येपथोमी, ओडिशा से मनमोहन सामल,

पंजाब से सुनील जाखड,सिक्कीम से आर थापा, तमिलनाडु से के.अन्नामलाई,

तेलंगाना से जी.किशन रेडी, त्रिपुरा से राजीव भट्टाचार्य, उत्तराखंड से महेन्द्र भट्ट,

यूपी से भूपेन्द्र सिंह, प.बंगाल से सुकांता मजूमदार,दिल्ली से वीरेन्द्र सचदेवा,

पुडुचेरी से एस सेल्वागनाबथी,दादर-नगर हवेली से दीपेश ठाकोरभाई टंडेल,

अंडमान-निकोबार से अजॉय बैरागी , चंडीगढ से जतिंदर पाल मल्होत्रा,

लक्षद्वीप से एन. कास्मिकोया को किया गया शपथ ग्रहण में आमंत्रित

बहरहाल, मुख्यमंत्री पद पर अप्रत्याशित नाम आने के बाद अब मंत्रिमंडल का सस्पेंस खड़ा हो गया है. वरिष्ठों और अनुभवियों को जगह मिलेगी या नहीं, तमाम चेहरे नए होंगे या कुछ ही नए होंगे. लेकिन इतना जरूर हैं की कर्मठ कार्यकर्ता को सीएम बनाए जाने से भाजपा के आम कार्यकर्ता में जोश आएगा. लंबे समय से भजनलाल के संगठन में जमीनी स्तर पर काम करने से प्रदेश में नेटवर्क अच्छा है. हर कार्यकर्ता से जुड़े रहे. इसका लोकसभा चुनाव में फायदा मिल सकता है.

pnews
Author: pnews

Leave a Comment