Follow Us

रामायण की ‘शूर्पणखा’, राक्षसों वाली हंसी से मिला था रावण की बहन का रोल

रामायण की ‘शूर्पणखा’, राक्षसों वाली हंसी से मिला था रावण की बहन का रोल

22 जनवरी को अयोध्या की राम जन्मभूमि में राम मंदिर का निर्माण होने जा रहा है. ऐसे में हर किसी को साल 1987 में टेलीकास्ट की गई रामानंद सागर की रामायण खूब याद आ रही है. इस रामायण में निभाए गए सारे किरदारों को आज भी लोग याद करते हैं. निर्देशक रामानंद सागर के निर्देशन में बनी रामायण ने देश ही नहीं, विदेशों में भी लोगों के दिलों में अपनी इतनी गहरी छाप छोड़ी थी कि आज भी लोग उसे भुला नहीं पाए हैं. आज के समय में भी वह आईकॉनिक शो लोगों के दिलों में बसा हुआ है.

टीवी सीरी रामायण में भगवान राम का किरदार अरुण गोविल और माता सीता के किरदार को दीपिका चिखलिया ने निभाया था, जिन्हें आज भी पूरे भारत के लोग नमन करते हैं. वहीं, रामायण में शूर्पनखा का रोल निभाने वाली एक्ट्रेस रेनू धारीवाल को भी लोग आज भूल नहीं पाए हैं. उनके रोल को भी लोगों ने खूब पसंद किया था. सूर्पनखा का रोल निभाने वाली रेनू धारीवाल जब- जब पर्दे पर ठहाकों के साथ हंसती थी तो उनकी गूंज दर्शकों के कानों में गूंजती रहती थी.
बताया जाता है कि रामायण में काम करने के बाद उन्होंने दूसरे सीरियल में काम नहीं किया लेकिन रामायण में शूर्पनखा के रोल में उन्होंने बेहतरीन अदाकारी से देश के लोगों के दिलों में अपनी तगड़ी जगह बना ली थी. अब उनकी उम्र 59 साल की हो गई है. ऐसे में वह कहां हैं, लोग उनके बारे में जानने के लिए एक्साइटेड रहते हैं.

सीरियल रामायण में रेनू धारीवाल ने जब शूर्पनखा का रोल निभाया था तो उनकी उम्र में 22 साल थी लेकिन अब वह 59 साल की हो गई हैं. उम्र के साथ-साथ उनका पूरा लुक भी बदल चुका है. शादी के बाद उन्होंने अपना नाम बदल लिया और रेनू खानोलकर कर दिया. उनका 23 साल का बेटा है. एक तरफ जहां अयोध्या के राम मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा की बात चल रही है, वहीं लोगों को धीरे-धीरे रामायण के सारे किरदार याद आ रहे हैं. ऐसे में शूर्पनखा का किरदार निभाने वाली रेनू को भी लोग खूब याद करते हैं.
राजनीति में भी आजमाया हाथ
बता दें कि रेनू धारीवाल ने राजनीति में भी हाथ आजमाया और वह कांग्रेस पार्टी के साथ जुड़ गई. फिलहाल वह अपने पति और बेटे के साथ मुंबई के अंधेरी स्थित अपार्टमेंट में रहती हैं. टीवी सीरियल रामायण के बाद रेनू ने लाइमलाइट से दूरी बना ली और वह परिवार के साथ समय गुजरती हैं. उनकी मानें तो उन्होंने परिवार के किसी भी मेंबर को एक्टिंग या फिल्मों की दुनिया में जाने की इजाजत नहीं दी. उनका कहना था कि उनकी मां ने उनके साथ दिया था और पापा से झूठ बोलकर वह मुंबई आई थी. इसके बाद उन्होंने एक्टिंग क्लासेस जॉइन किया. थिएटर में भी काम किया. इसके बाद ही उन्हें रामानंद सागर ने शूर्पनखा का रोल ऑफर किया था.

कैसे मिला शूर्पनखा का रोल
रेनू बताती है कि जब उन्हें रामायण के ऑडिशन के लिए बुलाया गया था तो रामानंद सागर उनसे कहा था कि तुम्हें केवल राक्षसों की तरह हंसना है. इसके बाद रेनू ने इस मौके का पूरा फायदा उठाया और जमकर ठहाके लगाए. उसके बाद उन्हें इस रोल के लिए सेलेक्ट कर लिया गया था. रेनू धारीवाल का शूर्पणखा का किरदार आज भी लोगों के जहन में जिंदा है.

 

pnews
Author: pnews

Leave a Comment